सत्संग भजन लिरिक्स इन हिंदी | Satsang Bhajan Lyrics in Hindi | सत्संग भजन लिरिक्स Satsang Bhajan Lyrics

जो कोई जावे सत री संगत में राजस्थानी भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन जो कोई जावे सत री संगत में राजस्थानी भजन लिरिक्स जो कोई जावे सत री संगत में,इनको खबर पड़ी है,सत्संग अमर जड़ी है।। श्लोक – सतगुरु के दरबार…

Continue Readingजो कोई जावे सत री संगत में राजस्थानी भजन लिरिक्स

हरी नाम का कर सुमिरण शक्ति मिल जाएगी भजन लिरिक्स

भजन हरी नाम का कर सुमिरण शक्ति मिल जाएगी भजन लिरिक्सSinger– Ajay Nathaniतर्ज – एक प्यार का नगमा। हरी नाम का कर सुमिरण,शक्ति मिल जाएगी,मोह माया के बंधन से,मुक्ति मिल…

Continue Readingहरी नाम का कर सुमिरण शक्ति मिल जाएगी भजन लिरिक्स

साँवरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन साँवरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्सतर्ज – बाबुल का ये घर। साँवरे से मिलने का,सत्संग ही बहाना है,चलो सत्संग में चलें,हमें हरी गुण गाना…

Continue Readingसाँवरे से मिलने का सत्संग ही बहाना है भजन लिरिक्स

साधो भाई सत्संग उत्तम गंगा देसी भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन साधो भाई सत्संग उत्तम गंगा देसी भजन लिरिक्सगायक – चम्पा लाल प्रजापति। साधो भाई सत्संग उत्तम गंगा,पाप ताप संताप मिटावे,झण्डा लहरावे तिरंगा।। सत्संग तो संता की कोर्ट,चले ज्ञान…

Continue Readingसाधो भाई सत्संग उत्तम गंगा देसी भजन लिरिक्स

सत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो

सत्संग भजन लिरिक्स सत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो सत्संग में सब आया करो,यो जीवन सफल बनाया करो।। आओ र भक्तो कर्म कमालो,आओ र भक्तो कर्म…

Continue Readingसत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो

मोको लाग्यो रे सतसंगी थारो भाग जाग्यो रे

भजन मोको लाग्यो रे सतसंगी थारो भाग जाग्यो रेनिमाड़ी भजन संग्रह। मोको लाग्यो रे सतसंगी,थारो भाग जाग्यो रे,मौको लाग्यों रे।। गली गली हरी चर्चा होवे,जाणो सतगुरु आयो रे,भारत भूमि अमरत…

Continue Readingमोको लाग्यो रे सतसंगी थारो भाग जाग्यो रे

सत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो

सत्संग भजन लिरिक्स सत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो सत्संग में सब आया करो,यो जीवन सफल बनाया करो।। आओ र भक्तो कर्म कमालो,आओ र भक्तो कर्म…

Continue Readingसत्संग में सब आया करो यो जीवन सफल बनाया करो

गुरूजी बंद पड़ी दिवला वाली रे ज्योत भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन गुरूजी बंद पड़ी दिवला वाली रे ज्योत भजन लिरिक्सSinger : Kishore Paliwal गुरूजी बंद पड़ी,दिवला वाली रे ज्योत, दोहा – संत बुलाया आंगने,और गुरु उगमजी महाराज,बाई रूपादे वायक…

Continue Readingगुरूजी बंद पड़ी दिवला वाली रे ज्योत भजन लिरिक्स

हिन्दो घलई दूँ सत्संग बाग में ओ गुरूजी भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन हिन्दो घलई दूँ सत्संग बाग में ओ गुरूजी भजन लिरिक्सगायक – अनिल नागौरी। हिन्दो घलई दूँ सत्संग बाग में,ओ गुरूजी। दोहा – गुरु बीणजारा ग्यान रा,ने लाया वस्तु…

Continue Readingहिन्दो घलई दूँ सत्संग बाग में ओ गुरूजी भजन लिरिक्स

बहे सत्संग का दरिया नहा लो जिसका जी चाहे भजन लिरिक्स

भजन बहे सत्संग का दरिया नहा लो जिसका जी चाहे भजन लिरिक्सतर्ज – जगत के रंग क्या देखूं। बहे सत्संग का दरिया,नहा लो जिसका जी चाहे,करो हिम्मत लगा डुबकी,नहा लो…

Continue Readingबहे सत्संग का दरिया नहा लो जिसका जी चाहे भजन लिरिक्स