राधा जी मीराबाई जी भजन लिरिक्स – Radha ji Meerabai ji Bhajan Lyrics

दूर नगरी बड़ी दूर नगरी कैसे आऊं मैं कन्हाई भजन लिरिक्स

दूर नगरी,बड़ी दुर नगरी,कैसे आऊं मैं कन्हाई,तेरी गोकुल नगरी,बड़ी दुर नगरी,दुर नगरी,बड़ी दुर नगरी।। रात में आऊं कान्हा,डर मोहे लागे,दिन को आऊं तो देखे,सारी नगरी,दुर नगरी,बड़ी दुर नगरी।। सखी संग…

Continue Readingदूर नगरी बड़ी दूर नगरी कैसे आऊं मैं कन्हाई भजन लिरिक्स

तेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से आयी हूँ भजन लिरिक्स

तेरी मुरली की धुन सुनने,मैं बरसाने से आयी हूँ।। तेरी मुरली की धुन सुनने,मैं बरसाने से आयी हूँ,मैं बरसाने से आयी हूँ,मैं वृषभानु की जाई हूँ,अरे रसिया, ओ मन बसिया,मैं…

Continue Readingतेरी मुरली की धुन सुनने मैं बरसाने से आयी हूँ भजन लिरिक्स

आओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दो भजन लिरिक्स

दोहा – ऐसे वर को क्या वरु,जो जनमे और मर जाये,वरीये गिरिधर लाल को,चुड़लो अमर हो जाये। आओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दो,मेहँदी लगा दो, मुझे सुन्दर सजा दो,मुझे…

Continue Readingआओ मेरी सखियो मुझे मेहँदी लगा दो भजन लिरिक्स

​मैं देखूँ जिस ओर सखी री सामने मेरे साँवरिया भजन लिरिक्स

​मैं देखूँ जिस ओर सखी री,सामने मेरे साँवरिया,मै तो नाचूंगी सांवरिया,मै तो नाचूंगी सांवरिया।। श्याम मुझको जोगन बनाया,जोगन बनाया,जोगन बनाया,जहर का प्याला अमृत बनाया,अमृत बनाया,प्याला अमृत बनाया,प्रेम के रंग में…

Continue Reading​मैं देखूँ जिस ओर सखी री सामने मेरे साँवरिया भजन लिरिक्स