रब दे बन्दे Rabb De Bande Lyrics in Hindi from 31st October (2016)

Rabb De Bande Lyrics in Hindi. रब दे बन्दे song from 31st October 2016

Song Name : Rabb De Bande
Album / Movie : 31st October 2016
Star Cast : Vir Das, Soha Ali Khan, Daya Shanker Pandey, Vineet Sharma, Deepraj Rana, Raj Saluja, Nagesh Bhonsle, Sezal Sharma
Singer : Harshdeep Kaur
Music Director : Vijay Verma
Lyrics by : Jagmeet B, Mehboob Alam Kotwal
Music Label : Zee Music Company

Rabb De Bande Lyrics in Hindi :

ह्म्म्मम्म…..
खाबों को तराश के दुनिया सज़ाएं
दिए में डूबी बाटी से सूरज उगायें
खाबों को तराश के दुनिया सज़ाएं
दिए में डूबी बाटी से सूरज उगायें

छोड़ के कलियाँ के गम को खुशियां मनायें
तोड़ के अंदर के रावण को फिर से जलाये

कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं
कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं
रब दे बन्दे रब दे बन्दे
रब दे बन्दे रब दे बन्दे

हौसलों के पंखों से उड़ते जाएँ
मंज़िलों के आगे भी रास्ते बनाये
हौसलों के पंखों से उड़ते जाएँ
मंज़िलों के आगे भी रास्ते बनाये

ठान ले अपनी ज़िद को खुद से हराये
काट दे अपनी ……

कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं
कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं

रब दे बन्दे रब दे बन्दे
रब दे बन्दे रब दे बन्दे
रब दे बन्दे रब दे बन्दे

क़दमों को न रोके हो जैसी हवाएं
आँधियों को रोक दे हो ऐसी अदाएं
क़दमों को न रोके हो जैसी हवाएं
आँधियों को रोक दे हो ऐसी अदाएं

भटके मन्न को काबू कर दे दे दिशायें
गलत वाळात जो होने दे वो आँखों वाले अंधे हैं

कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं
कुछ माडे हैं कुछ चंगे हैं
हम सब रब के बंदे हैं

बंदी रब दे बन्दे
बंदी रब दे बन्दे
बंदी रब दे बन्दे
बंदी रब दे बन्दे
बंदी रब दे बन्दे
हो रब दे रब दे रब दे
बंदी.

Rabb De Bande Lyrics in English :

Hmmmmm…..
Khabon ko tarash ke duniya sazayein
Diye mein doobi baati se sooraj ugaayein
Khabon ko tarash ke duniya sazayein
Diye mein doobi baati se sooraj ugaayein

Chhod ke kaliyaan ke gam ko khushiyaan manaayein
Tod ke ander ke raaven ko fir se jalaaye

Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain
Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain
Rab de bandey rab de bandey
Rab de bandey rab de bandey

Hoslon ke pankhon se udte jaayein
Manzilon ke aagey bhi rastey banaye
Hoslon ke pankhon se udte jaayein
Manzilon ke aagey bhi rastey banaye

Thhan le apni zid ko khud se haraaye
Kaat de apni ……

Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain
Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain

Rab de bandey rab de bandey
Rab de bandey rab de bandey
Rab de bandey rab de bandey

Kadmon ko na roke ho jaisi hawayein
Aandhiyon ko rok de ho aisi adaayein
Kadmon ko na roke ho jaisi hawayein
Aandhiyon ko rok de ho aisi adaayein

Bhatke mann ko kaabu kar de de dishayein
Galat walat jo hone de wo ankhon waale andhe hain

Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain
Kuch maade hain kuch changey hain
Hum sab rab ke bandey hain

Bandey rab de bandey
Bandey rab de bandey
Bandey rab de bandey
Bandey rab de bandey
Bandey rab de bandey
Ho rab de rab de rab de
Bandey.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *