ज़िन्दगी और मौत दोनों Zindagi Aur Maut Dono Lyrics in Hindi from Zindagi Aur Maut

Zindagi Aur Maut Dono Lyrics in Hindi. ज़िन्दगी और मौत दोनों song from Zindagi Aur Maut.

Song Name : Zindagi Aur Maut Dono
Album / Movie : Zindagi Aur Maut
Star Cast : Pradeep Kumar, Faryal Manmohan, N A Ansari, Anwar Hussan, Nasreen
Singer : Asha Bhosle
Music Director : Ramchandra Narhar Chitalkar (C. Ramchandra)
Lyrics by : Shakeel Badayuni
Music Label : Saregama

Zindagi Aur Maut Dono Lyrics in Hindi :

ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है
दिल अगर लगता न हो संसार में

ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है
दिल अगर लगता न हो संसार में
ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है

क्या भरोसा जिंदगी के साथ का
क्या भरोसा जिंदगी के साथ का

दिल के तारो की हसि आवाज़ का
दो घडी की वह्मादि है वह की
दो घडी की वह्मादि है वह की

इसके आगे कुछ नहीं जनकर में
ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है

हर किसी दिल में ख़ुशी मिलती नहीं
आईने टुटे भी होते है कही

हर किसी दिल में ख़ुशी मिलती नहीं
आईने टुटे भी होते है कही

बेचने वालो नजर से काम लो
फूल भी उलझे हुए है हर में

ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है
दिल अगर लगता न हो संसार में
जिंदगी और मौत दोनों एक है

शमा से पूछे कोई दिल की लगी
शमा से पूछे कोई दिल की लगी

कब जली थी और कैसे बुझ गयी
ग़म की मंज़िल है कठिन है उसके लिए
ग़म की मंज़िल है कठिन है उसके लिए

जिसको खुसिया मिल चुकी हो प्यार में
ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है

दिल अगर लगता न हो संसार में
ज़िन्दगी और मौत दोनों एक है.

Zindagi Aur Maut Dono Lyrics in English :

Zindagi or maut dono ek hai
Dil agar lagta na ho sansar me

Zindagi or maut dono ek hai
Dil agar lagta na ho sansar me
Zindagi or maut dono ek hai

Kya bharosa jindagi ke sath ka
Kya bharosa jindagi ke sath ka

Dil ke taro ki hasi awaz ka
Do ghadi ki wahmadi hai wah ki
Do ghadi ki wahmadi hai wah ki

Iske age kuchh nahi jankar me
Zindagi or maut dono ek hai

Har kisi dil me khusi milti nahi
Aayine tute bhi hote hai kahi

Har kisi dil me khusi milti nahi
Aayine tute bhi hote hai kahi

Bechne walo najar se kam lo
Phool bhi uljhe hue hai har me

Zindagi or maut dono ek hai
Dil agar lagta na ho sansar me
Jindagi or maut dono ek hai

Shama se puchhe koi dil ki lagi
Shama se puchhe koi dil ki lagi

Kab jali thi or kaise bujh gayi
Gham ki manzil hai kathin hai uske liye
Gham ki manzil hai kathin hai uske liye

Jisko khusiya mil chuki ho pyar me
Zindagi or maut dono ek hai

Dil agar lagta na ho sansar me
Zindagi or maut dono ek hai.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *