चल हलके हलके Chal Halke Halke Lyrics in Hindi from A Flat (2010)

Chal Halke Halke Lyrics in Hindi. चल हलके हलके song from A Flat 2010

Song Name : Chal Halke Halke
Album / Movie : A Flat 2010
Star Cast : Sanjay Suri, Jimmy Shergill, Kaveri Jha, Aindrita Ray, Hazel Crowney, Sachin Khedekar, Nassar Abdulla, Saurabh Dubey
Singer : Bappa Lahiri, Raja Hasan, Sunidhi Chauhan
Music Director : Bappa Lahiri
Lyrics by : Virag Mishra
Music Label : T-Series

Chal Halke Halke Lyrics in Hindi :

अरे पीली चोटियाँ
हवैं सेहेन सी
माहताब नज़रें
तेरी या खुदा अब क्या करैं

आँखें मेरी ख़रगोशी
होंटों में है मदहोशी
चाँद की चूरड़ी मेरी है
मारूंगी मैं दम छोटी
रो दूँगी झूटी मूति
बादल यह मेरे पीछे है
सुन झरने तू सीधे क्यों गिरे है
तू आज चल तू मेरे जैसा उल्टा चल

चल हलके हलके ूर्र्ति
तू इतनी क्या जल्दी है
सब को यह हवा बतलाती
थी तू घर से निकलती है

मैं रातों से झगड़ लूंगी
उछाल के चाँद को पकड़ लूँगी
मैं गिर गिर के संभल लूंगी
मैं सात रंगों को बदल दूंगी
चीज़ें मेरी तू क्यों
घर से निकलता है पागल

चल हलके हलके ूर्र्ति
तू इतनी क्या जल्दी है
सब को यह हवा बतलाती
थी तू घर से निकलती है

मैं तितली की सहेली हूँ
मैं ज़ुल्फ़ों में लिपटी पहेली हूँ
बर्फ की तरफ है घर मेरा
ओढ़ ले धुप वह पीली हूँ
सूरज मेरे चाओं ले
कर क्यूँ डूबता है पागल

चल हलके हलके ूर्र्ति
तू इतनी क्या जल्दी है
सब को यह हवा बतलाती
थी तू घर से निकलती है

आँखें मेरी ख़रगोशी
होंटों में है मदहोशी
चाँद की चूरड़ी मेरी है
मारूंगी मैं दम छोटी
रो दूँगी झूटी मूति
बादल यह मेरे पीछे है
सुन झरने तू सीधे क्यों गिरे है
तू आज चल तू मेरे जैसा उल्टा चल

चल हलके हलके ूर्र्ति
तू इतनी क्या जल्दी है
सब को यह हवा बतलाती
थी तू घर से निकलती है.

Chal Halke Halke Lyrics in English :

Aray peeli chotiyaan
Hawaeyn sehen si
Maahtaab nazrain
Teri ya khuda ab kya karain

Aankhain meri khargoshi
Honton mein hai madhoshi
Chaand ki choorri meri hai
Maarungi main dum choti
Ro doongi jhooti mooti
Baadal yeh mere peeche hai
Sun jharne tu seedhe kyun gire hai
Tu aaj chal tu mere jaisa ulta chal

Chal halke halke urrti
Tu itni kya jaldi hai
Sab ko yeh hawa batlaati
Thi tu ghar se nikalti hai

Main raaton se jhagar loongi
Uchal ke chaand ko pakar loongi
Main gir gir ke sambhal loongi
Main saat rangon ko badal doongi
Cheezain meri tu kyun
Ghar se nikalta hai paagal

Chal halke halke urrti
Tu itni kya jaldi hai
Sab ko yeh hawa batlaati
Thi tu ghar se nikalti hai

Main titlee ki saheli hoon
Main zulfon mein lipti paheli hoon
Baraf ki taraf hai ghar mera
Orh le dhoop woh peeli hoon
Sooraj mere chaaon le
Kar kyun doobta hai paagal

Chal halke halke urrti
Tu itni kya jaldi hai
Sab ko yeh hawa batlaati
Thi tu ghar se nikalti hai

Aankhain meri khargoshi
Honton mein hai madhoshi
Chaand ki choorri meri hai
Maarungi main dum choti
Ro doongi jhooti mooti
Baadal yeh mere peeche hai
Sun jharne tu seedhe kyun gire hai
Tu aaj chal tu mere jaisa ulta chal

Chal halke halke urrti
Tu itni kya jaldi hai
Sab ko yeh hawa batlaati
Thi tu ghar se nikalti hai.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *