खलबली Khalbali Lyrics in Hindi from 3g A Killer Connection (2013)

Khalbali Lyrics in Hindi. खलबली song from 3g A Killer Connection 2013.

Song Name : Khalbali
Album / Movie : 3g A Killer Connection 2013
Star Cast : Neil Nitin Mukesh, Sonal Chauhan, Asheesh Kapur, Himani Chauhan
Singer : Arijit Singh, Shilpa Rao, Tochi Raina
Music Director : Mithoon Sharma
Lyrics by : Shellee
Music Label : Eros Music

Khalbali Lyrics in Hindi :

आरज़ूएं संग लेकर
ख्वाब फिर जो उड़े
थामे तेरा यार दामन
यार दामन फिर से

गए भूल जो लम्हे
वह दर्द के पल थे
बेहतर अब दिन
हो कल के कल के
किस तरह से तेरा
अब शुक्र अदा हो
तेरी नज़र करम
के सैड के सैड के

गए भूल जो लम्हे
वह दर्द के पल थे
बेहतर अब दिन
हो कल के कल के
आरज़ूएं संग लेकर
ख्वाब फिर जो उड़े
थामे तेरा यार दामन
तेरे मेरे मेरे तेरे
रास्तों पे रेहना युहीं

खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली हाय
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली हाय

मौजें बहारें वह
रेहमतें हज़ार
श्यामे हो जैसे त्यौहार
रौनक नज़रें
हो बरक़तें हज़ार
शुभ ही हो तेरा दीदार
तुझसे ही मेरे
श्याम ो शहर हैं
ज़ाहिर हुई बात ये
वाला तेरा इश्क़ महिया
वाला क्या कहने
कितनी सोहनी सूरत सीरत
चपल पाकल
तुझसे न देखा कोई

खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली हाय
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली हाय

खलबली है खलबली है
खलबली है दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
खलबली है दिल विच खलबली

हो है तेरी ही सांगत में
मोहब्बत का मौसम
है तू ही है मौशिकी
तू उल्फत की सरगम
तेरी बातों में
है रे साँसे रेशम
तेरी आँखें सुकून
तेरा चूना मरहम
खतरा ले लेकर
समंदर आसमान ओढ़े
गूंजे यह धुन दिल के अंदर
रेजा रेजा रेजा रेजा
रेजा रेजा रेजा मग रेसा

खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली है

खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली है

खलबली है खलबली है
खलबली है खलबली है
खलबली है खलबली है
दिल विच खलबली है.

Khalbali Lyrics in English :

Aarzooen sang lekar
Khwab phir jo ude
Thaame tera yaar daaman
Yaar daaman phir se

Gaye bhool jo lamhe
Woh dard ke pal the
Behtar ab din
Ho kal ke kal ke
Kis tarah se tera
Ab shukr adaa ho
Teri nazar karam
Ke sad ke sad ke

Gaye bhool jo lamhe
Woh dard ke pal the
Behtar ab din
Ho kal ke kal ke
Aarzooyen sang lekar
Khwab phir jo ude
Thaame tera yaar daaman
Tere mere mere tere
Raston pe rehna yuhin

Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haaye
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haaye

Maujen baharen woh
Rehmatein hazaar
Shyame ho jaise tyohaar
Raunak nazaren
Ho barkaten hazaar
Shubh hi ho tera deedar
Tujhse hi mere
Shyam o shehar hain
Zahir hui baat ye
Valla tera ishq mahiya
Valla kya kehne
Kitni sohni surat seerat
Chapal pakal
Tujhsa na dekha koi

Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haaye
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haaye

Khalbali hai khalbali hai
Khalbali hai dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Khalbali hai dil vich khalbali

Ho hai teri hi sangat mein
Mohabbat ka mausam
Hai tu hi hai maushiqui
Tu ulfat ki sargam
Teri baaton mein
Hai re saanse resham
Teri aankhen sukoon
Tera choona marham
Khatra le lekar
Samandar aasman odhe
Gunje yeh dhoon dil ke andar
Rega rega rega rega
Rega rega rega maga resa

Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haay

Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haay

Khalbali hai khalbali hai
Khalbali hai khalbali hai
Khalbali hai khalbali hai
Dil vich khalbali haay.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *