कभी कुछ खोया Kabhi Kuchh Khoya Lyrics in Hindi from Zindagi Ek Juaa (1992)

Kabhi Kuchh Khoya Lyrics in Hindi. कभी कुछ खोया song from Zindagi Ek Juaa 1992.

Song Name : Kabhi Kuchh Khoya
Album / Movie : Zindagi Ek Juaa 1992
Star Cast : Anil Kapoor, Madhuri Dixit, Anupam Kher, Shakti Kapoor
Singer : Kumar Sanu
Music Director : Bappi Lahiri
Lyrics by : Prakash Mehra
Music Label : Saregama

Kabhi Kuchh Khoya Lyrics in Hindi :

आज हमने सबक वो पढ़ डाला
जिसको दुनिया किताब कहती हैं
और एक ऐसा काम कर डाला
जिसको दुनिया हिसाब कहती हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया

जब पा लिया खुश हो गए
जब खो दिया दिल रो दिया
इसी खोने पाने का नाम ज़िन्दगी हैं
बिना खाये पिये नकाम ज़िन्दगी हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया

जब पा लिया खुश हो गए
जब खो दिया दिल रो दिया
इसी खोने पाने का नाम ज़िन्दगी हैं
बिना खाये पिये नकाम ज़िन्दगी हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया

ज़माने ने जो कुछ भी हमकोडिया
सरखो पे हमने उसे रख लिया
कभी ये न सोचा बुरा के भला
सदा खुश रहे सब यहीं हैं दुआ
वही हमने कटा जो हमने था बोया
जब पा लिया खुश हो गए
जब खो दिया दिल रो दिया
इसी खोने पाने का नाम ज़िन्दगी हैं
बिना खाये पिये नकाम ज़िन्दगी हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया

मेरा हमसफ़र भी कही खो गया
बताओ भला हम करे भी तो क्या
कोई हमसे एके ज़रा सिखले
हैं मर मर के जीने में कैसा मजा
वही हमने कटा जो हमने था बोया
जब पा लिया खुश हो गए
जब खो दिया दिल रो दिया
इसी खोने पाने का नाम ज़िन्दगी हैं
बिना खाये पिये नकाम ज़िन्दगी हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया

हमें ज़िन्दगी की नज़र लग गयी
नहीं जीने की अब कोई हसरत रही
हम अपने लबो से लिखेंगे कभी
वही दास्तां लिख सका न कोई
वही हमने कटा जो हमने था बोया
जब पा लिया खुश हो गए
जब खो दिया दिल रो दिया
इसी खोने पाने का नाम ज़िन्दगी हैं
बिना खाये पिये नकाम ज़िन्दगी हैं
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया
कभी कुछ खोया कभी कुछ पाया.

Kabhi Kuchh Khoya Lyrics in English :

Aaj hamne sabak wo pad dala
Jisko duniya kitab kahti hain
Aur ek aisa kam kar dala
Jisko duniya hisab kahti hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya

Jab paa liya khush ho gaye,
Jab kho diya dil ro diya
Isi khone pane ka naam zindagi hain
Bina khoye paye nakam zindagi hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya

Jab paa liya khush ho gaye,
Jab kho diya dil ro diya
Isi khone pane ka naam zindagi hain
Bina khoye paye nakam zindagi hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya

Jamane ne jo kuch bhi hamkodiya
Sarakho pe hamne use rakh liya
Kabhi ye na socha bura ke bhala
Sada khush rahe sab yahin hain dua
Wohi hamne kata jo hamne tha boya
Jab paa liya khush ho gaye,
Jab kho diya dil ro diya
Isi khone pane ka naam zindagi hain
Bina khoye paye nakam zindagi hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya

Mera hamsafar bhi kahi kho gaya
Batao bhala ham kare bhi to kya
Koi hamse ake zara sikhle
Hain mar mar ke jeene mein kaisa maja
Wohi hamne kata jo hamne tha boya
Jab paa liya khush ho gaye,
Jab kho diya dil ro diya
Isi khone pane ka naam zindagi hain
Beena khoye paye nakam zindagi hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya

Hame zindagi ki nazar lag gayi
Nahin jeene ki ab koi hasrat rahi
Ham apne labo se likhenge kabhi
Wohi dasta likh saka na koi
Wohi hamne kata jo hamne tha boya
Jab paa liya khush ho gaye,
Jab kho diya dil ro diya
Isi khone pane ka naam zindagi hain
Bina khoye paye nakam zindagi hain
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya
Kabhi kuch khoya kabhi kuch paya.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *