​मेरे सर पर रखदो गुरुवर अपने ये दोनों हाथ भजन लिरिक्स

गुरुदेव भजन ​मेरे सर पर रखदो गुरुवर अपने ये दोनों हाथ भजन लिरिक्स
Singer – Deepak Ram

​मेरे सर पर रखदो गुरुवर,
अपने ये दोनों हाथ,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

इस जनम मे सेवा देकर,
बहूत बड़ा अहसान कीया,
तू ही साथी तू ही खिवैया,
मैंने तुझे पहचान लिया,
हम साथ रहे जन्मों तक,
हम साथ रहे जन्मों तक,
बस रखना इतनी बात,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

देने वाले गुरुवर हो तो,
धन और दौलत क्या मांगे,
गुरु से अपने मांगे तो फिर,
नाम और इज्जत क्या मांगे,
मेरे जीवन में अब कर दे,
मेरे जीवन में अब कर दे,
तू किरपा की बरसात,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

गुरूजी तेरे चरणों की धूली,
धन दौलत से महंगी है,
एक नज़र कृपा की गुरुवर,
नाम इज्जत से महंगी है,
मेरे दिल की तम्मना यही है,
मेरे दिल की तम्मना यही है,
करूँ सेवा तेरी दिन रात,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

सुना है हमने शरणागत को,
अपने गले लगाते हो,
ऐसा हमने क्या माँगा जो,
देने से घबराते हो,
चाहे जैसे रखलो गुरूजी,
चाहे जैसे रखलो गुरूजी,
बस होती रहे मुलाकात,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

​मेरे सर पर रखदो गुरुवर,
अपने ये दोनों हाथ,
देना हो तो दीजिए,
जनम जनम का साथ।।

Leave a Reply