हो मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे भजन लिरिक्स

हरियाणवी भजन हो मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे भजन लिरिक्स
गायक – नरेन्द्र कौशिक।

हो मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे,
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हो मैं रोऊँ लाल की मारी,
और ना कोई चीज लागती प्यारी,
हो मेरे बाबा मेरा उजड़ा ढुँढ़ बसादे,
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हों मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे
या दुनिया बांझ बतावः स।।

सांस नन्द मन्नै बांझ बतावः,
ताने दे क मन्नै रूलावः,
हो मेरे बाबा मेरी गोदी में लाल खिलादे,
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हों मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हो मैं तेरी शरण में आई,
तेरे चरणां में अर्जी लाई,
हो मेरे बाबा तुं गीत छठी के गवादे,
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हों मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे
या दुनिया बांझ बतावः स।।

सुणया तेरा सांच गाम में डेरा,
रामकिशन यो भक्त स तेरा,
हो मेरे बाबा दयालू ने पार लगादे,
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हों मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे
या दुनिया बांझ बतावः स।।

हो मेरे बाबा मेरी सुनी गोद सजादे
या दुनिया बांझ बतावः स।।

Leave a Reply