Skip to content

हम हार के अपनों से बाबा दर पे आए है भजन श्याम बाबा भजन लिरिक्स

  • by
0 2747

हम हार के अपनों से
बाबा दर पे आए है
गले अपने लगा लो ना
तेरी शरण में आए है
हम हार के अपनो से
बाबा दर पे आए है।।

फिल्मी तर्ज भजन : एक प्यार का नगमा है।

सब मतलब से बाबा
रिश्तों को निभाते है
एक ऐसी बीमारी ये
अंधे बन जाते है
अपनों से छल करते
उन्हें निचा गिराते है
गले अपने लगा लो ना
तेरी शरण में आए है
हम हार के अपनो से
बाबा दर पे आए है।।

एक ऐसा समय भी था
सब संग में रहते थे
सुख दुःख सारे मिलकर
बांटा किया करते थे
लालच में वो घिरकर के
हमें आँख दिखाते है
गले अपने लगा लो ना
तेरी शरण में आए है
हम हार के अपनो से
बाबा दर पे आए है।।

ये ऐसा कलयुग है
जहाँ छल और बस छल है
तेरा प्रेमी भी बाबा
इसकी चंगुल में है
निखिल हारे बैठा
तेरी बाट निहारे है

गले अपने लगा लो ना
तेरी शरण में आए है
हम हार के अपनो से
बाबा दर पे आए है।।

हम हार के अपनों से
बाबा दर पे आए है
गले अपने लगा लो ना
तेरी शरण में आए है
हम हार के अपनो से
बाबा दर पे आए है।।

  1. तेरी रहमतो ने हमको दर पर बुला लिया है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. हम तो आये शरण में तुम्हारी भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. फागणियो आयो रे मंदिर में बड़ग्यो सांवरो भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. कभी ना भुलाना मुझे साँवरे तू भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. अजी हार कर के कहाँ जाओगे तुम भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. श्याम बाबा कृपा करो इस दास पर भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.