Skip to content

स्वर्ग से प्यारा है गुरु का द्वारा है शांति गुरुदेव भजन लिरिक्स

  • by
0 1062

जैन भजन स्वर्ग से प्यारा है गुरु का द्वारा है शांति गुरुदेव भजन लिरिक्स
गायक – नमन धारीवाल इंदौर।
तर्ज – तू कितनी अच्छी है।

स्वर्ग से प्यारा है,
गुरु का द्वारा है,
वो जग से न्यारा है,
आओ ना, आओ ना,
मांडोली आओ ना,
वो झोलिया भरता है,
वो दुखड़े हरता है,
शांति गुरु मेरा है,
पाओ ना, पाओ ना,
गुरु दर्शन पाओ ना।।

किस्मत वालो का,
आता बुलावा,
बिन बुलाये जाने वाला,
वो है भक्त निराला,
गुरु से नाता है,
वो मंडोली आता है,
रिश्ता जो गहरा है,
आओ ना, आओ ना,
मांडोली आओ ना।।

जिनको गुरु का,
प्यार है मिलता,
साया बनकर गुरुदेव ये,
साथ मे उनके चलता,
भक्त जो गिरता है,
ये बॉह पकड़ता है,
देता सहारा है,
आओ ना, आओ ना,
मांडोली आओ ना।।

मंडोली जाना “दिलबर”,
भुल न जाना,
एक बार जो गया बना वो,
मांडोली का दीवाना,
भक्त हजारो में,
खड़े है कतारों में,
अब बारी तुम्हारी है,
आओ ना, आओ ना,
मांडोली आओ ना।।

स्वर्ग से प्यारा है,
गुरु का द्वारा है,
वो जग से न्यारा है,
आओ ना, आओ ना,
मांडोली आओ ना,
वो झोलिया भरता है,
वो दुखड़े हरता है,
शांति गुरु मेरा है,
पाओ ना, पाओ ना,
गुरु दर्शन पाओ ना।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.