Skip to content

सखी छुप के रहना फागुण में एक जादूगर है गोकुल में

  • by
0 2377

सखी छुप के रहना फागुण में,
एक जादूगर है गोकुल में।।

उसके हाथों में पिचकारी,
जो सारे जगत से है न्यारी,
रंग दे तन मन जो इक पल में,
एक जादूगर है गोकुल में,
सखी छुप के रहना फागुण मे,
एक जादूगर है गोकुल में।।

उसका रंग दुनिया में सबसे चटक,
रंगता है मुस्काके नटखट,
वो माहिर है अपने छल में,
एक जादूगर है गोकुल में,
सखी छुप के रहना फागुण मे,
एक जादूगर है गोकुल में।।

जो उसके रंग में रंग जाए,
कुछ और उसे ना नजर आए,
फांसे वो प्रेम के दलदल में,
एक जादूगर है गोकुल में,
सखी छुप के रहना फागुण मे,
एक जादूगर है गोकुल में।।

जो उसके हाथों में आ जाए,
सुधबुध अपनी बिसरा जाए,
रंग जाए सलोने सांवल में,
एक जादूगर है गोकुल में,
सखी छुप के रहना फागुण मे,
एक जादूगर है गोकुल में।।

उसके संग ग्वालों की टोली है,
जो शोर मचाए होली है,
यमुना के किनारे जंगल में,
एक जादूगर है गोकुल में,
सखी छुप के रहना फागुण मे,
एक जादूगर है गोकुल में।।

सखी छुप के रहना फागुण में,
एक जादूगर है गोकुल में।।

  1. दिल में है श्याम साँसों में श्याम भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. मेरा खाटू वाला श्याम धणी भक्तों का पालनहारी है कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. कान्हा मीठी मीठी मुरली कि तान तुम्हारी कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. जिस पर भी ओ बाबा तेरा रंग चढ़ जाता है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. ऐसा दरबार कहां ऐसी सरकार कहां भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. ये बाल घुंगराले नैना काले काले भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. दरबार में आकर बाबा के हम दर्द सुनाना भूल गए
  8. मुझे तेरा अगर कान्हा सहारा ना मिला होता भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  9. तुम पास पास रहना तुम साथ साथ रहना भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.