श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिये राधा रानी भजन लिरिक्स

श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
अपने चरणों में मुझको लगा लीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिए,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

जब से तेरी शरण मुझको मिल ये गई,
मेरे मन की कली जब से ही खिल गई,
अपनी सेवा में मुझको लगा लीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिए,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

तुमको ही देखना ये इबादत मेरी,
तेरी ही बंदगी अब है चाहत मेरी,
इस गमे इश्क की अब दवा कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिए,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

जब तलक साँस है नाम गाता रहूँ,
भाव गा गा के तुमको रिझाता रहूँ,
मेरी फरियाद पर गौर तो कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

‘मदना पागल’ की इतनी तमन्ना यहीं,
आखरी श्वास हो और तेरा दर लाड़ली,
विनती पागल के पागल की पूजा दीजिए,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
अपने चरणों में मुझको लगा लीजिये,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये,
श्यामा प्यारी दया कीजिये कीजिए,
राधा रानी दया कीजिये कीजिये।।

Leave a Reply