Skip to content

राधा मीरा दोनों से तू नेह निभाए रे भजन लिरिक्स

  • by
0 813

राधा मीरा दोनों से तू,
नेह निभाए रे।

दोहा – तू मीरा का सांवरिया,
तू राधा का श्याम,
जहाँ पुकारे जो तुझे,
वहीं पे तेरा धाम।

राधा मीरा दोनों से तू,
नेह निभाए रे,
रात वृंदावन में तू बिताए,
दिन मेवाड़ बिताए रे,
तेरा सारा जीवन आने,
जाने में ही जाए रे,
राधा मीरा दोनो से तू,
नेह निभाए रे।।

तेरी शक्ति है राधारानी,
भक्ति है मीराबाई,
मीरा का गिरिधर नागर,
तू राधा का कृष्ण कन्हाई,
मीरा के पद सुनके रीझे,
राधा संग रास रचाए रे,
राधा मीरा दोनो से तू,
नेह निभाए रे।।

तेरी प्रीत की रीत में मोहन,
मीरा हुई दीवानी,
तेरे प्रेम के रंग रंगी है,
बरसाने की ठकुरानी,
तनिक न भेद करे प्रेमिन में,
सबको ह्रदय से लगाए रे,
राधा मीरा दोनो से तू,
नेह निभाए रे।।

राधा मीरा दोनो से तू,
नेह निभाए रे,
रात वृंदावन में तू बिताए,
दिन मेवाड़ बिताए रे,
तेरा सारा जीवन आने,
जाने में ही जाए रे,
राधा मीरा दोनो से तू,
नेह निभाए रे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.