Skip to content

म्हारे शीश पे लगा दो थारी मोर छड़ी भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2356

म्हारी विनती सुनो जी,
म्हारा श्याम धणी,
म्हारे शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी,
अरदास लगावा मैं तो,
घणी रे घणी,
म्हारे शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

मोर छड़ी रे जब,
सर पे लगेगी,
बिगडयोरी सब बात बनेगी,
श्याम रंग में रहूँगी,
में तो बणी रे ठणी,
म्हारा शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

मोर छड़ी ये जब,
नैनो में लगेगी,
काजल नहीं लाली,
श्याम की रचेगी,
दर्शण में करुँगी,
बाबा घडी रे घडी,
म्हारा शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

मोर छड़ी जब,
होंठो पे लगेगी,
श्याम श्याम की,
रटन लगेगी,
सवर जाएगी बाबा,
मेरी भी जिंदड़ी,
म्हारा शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

मोर छड़ी ये,
अवगुण हर लेगी,
जन्मो जन्म नम्रता,
दासी रहेगी,
अमृत; ने भी पटकी,
चरणों में पगड़ी,
म्हारा शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

म्हारी विनती सुनो जी,
म्हारा श्याम धणी,
म्हारे शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी,
अरदास लगावा मैं तो,
घणी रे घणी,
म्हारे शीश पे लगा दो,
थारी मोर छड़ी।।

  1. मुश्किल हुआ रे मेरा पनघट पे आना भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. kanhaiya bhajans lyrics hindi me bhajans
  3. काहे गोकुल छोड़ गया रे तुझ बिन मधुबन सूना भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. हो सके जो अगर श्याम मेरे जो हुआ सो हुआ भूल जाओ कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. चिंतन कर ले तू चिंता मैं हर लूंगा भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. जब होती करुण पुकार सांवरा आता है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. हम सब खेल खिलौने तेरे हाथों में है डोर भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. दुखो से उबरना तुम्ही ने सिखाया भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.