मेरी भी अरज सुनले दुनिया की सुनने वाली भजन लिरिक्स

मेरी भी अरज सुनले,
दुनिया की सुनने वाली,
तेरे दर पे आ गई हूँ,
जाऊं ना हाथ खाली,
मेरी भी अरज सुनलें,
दुनिया की सुनने वाली।।

दौलत ना माल दे माँ,
कौहर ना लाल दे माँ,
चरणों का फुल मेरी,
झोली में डाल दे माँ,
मेरी भी लाज रखले,
मेरी भी लाज रखले,
दुनिया की रखने वाली,
मेरी भी अरज सुनलें,
दुनिया की सुनने वाली।।

हम तेरा नाम लेकर,
बढ़ते ही जा रहे है,
हमको मिटाने वाले,
खुद मुंह की खा रहे है,
हरदम है साथ मेरे,
हरदम है साथ मेरे,
मेरी मैया शेरोवाली,
मेरी भी अरज सुनलें,
दुनिया की सुनने वाली।।

दुनिया की ठोकरे अब,
खाना नहीं गवारा,
चोखट पे तेरी मेरा,
होता रहे गुजारा,
एक मैं ही क्या ये दुनिया,
एक मैं ही क्या ये दुनिया,
तेरे दर की है सवाली,
मेरी भी अरज सुनलें,
दुनिया की सुनने वाली।।

मेरी भी अरज सुनले,
दुनिया की सुनने वाली,
तेरे दर पे आ गई हूँ,
जाऊं ना हाथ खाली,
मेरी भी अरज सुनलें,
दुनिया की सुनने वाली।।

Singer – Shahnaaz Akhtar
दुर्गा माँ भजन मेरी भी अरज सुनले दुनिया की सुनने वाली भजन लिरिक्स
मेरी भी अरज सुनले दुनिया की सुनने वाली भजन लिरिक्स

Leave a Reply