मस्ती छाई रे साँवरिया अब तो तेरे नाम की भजन लिरिक्स

मस्ती छाई रे छाई रे,
मस्ती छाई रे,
मस्ती छाई रे साँवरिया,
अब तो तेरे नाम की,
प्यारे तेरे नाम की,
मैं तो आई रे आई रे,
मैं तो आई रे,
मैं तो आई रे जोगनिया,
बनके तेरे नाम की,
प्यारे सुन्दर श्याम की।।

वृंदावन में वास करूँ और,
राधे राधे गाऊं ,
संतन की सेवा करके मैं,
जीवन सफल बनाऊं,
मैंने पाई रे पाई रे,
मैंने पाई रे डगरिया,
गोविन्द तेरे धाम की,
प्यारे तेरे धाम की,
मैं तो आई रे जोगनिया,
बनके तेरे नाम की,
प्यारे सुन्दर श्याम,
मस्ती छायी रे छाई रे,
मस्ती छाई रे,
अब तो तेरे नाम की,
प्यारे तेरे नाम की।।

तेरे दर्शन को प्यारे मेरी,
अखियाँ तरस रही है,
कहाँ करू कछु बस नहीं मेरो,
निशदिन बरस रही है,
मैं तो लायी रे लायी,
माला तेरे नाम की,
मैं तो आई रे जोगनिया,
बनके तेरे नाम की,
प्यारे सुन्दर श्याम,
मस्ती छायी रे छाई रे,
मस्ती छाई रे,
अब तो तेरे नाम की,
प्यारे तेरे नाम की।।

पि के भंग नाम तेरे की,
ऐसी मस्ती छाई,
छोड़ जगत के बंधन सारे,
वृन्दावन में आई,
मन को भायी रे भायी रे,
पैंजनिया तेरे पाँव की,
मैं तो आई रे जोगनिया,
बनके तेरे नाम की,
प्यारे सुन्दर श्याम,
मस्ती छायी रे छाई रे,
मस्ती छाई रे,
अब तो तेरे नाम की,
प्यारे तेरे नाम की।।

मस्ती छाई रे छाई रे,
मस्ती छाई रे,
मस्ती छाई रे साँवरिया,
अब तो तेरे नाम की,
प्यारे तेरे नाम की,
मैं तो आई रे आई रे,
मैं तो आई रे,
मैं तो आई रे जोगनिया,
बनके तेरे नाम की,
प्यारे सुन्दर श्याम की।।

Leave a Reply