मधुबन में राधिका नाचे रे हिंदी लिरिक्स

मधुबन में राधिका नाचे रे,
गिरधर की मुरलिया बाजे रे,
मधुबन में राधिका नाचे रे।।

पग में घुंघर बांधके,
पग में घुंघरु बांधके,
घुंघटा मुख पर डार के,
नैनन में कजरा लगाके रे,
मधुबन में राधिका नाचे रे।।

डोलत छम छम कामिनि,
डोलत छम छम कामिनि,
चमकत जैसे दामिनी,
चंचल प्यारी छव लागे रे,
मधुबन में राधिका नाचे रे।।

मृदंग बाजे तिरकिट धूम,
तिरकिट धूम ता ता,
नाचत छूम छूम ताथई,
ताथई ता ता छूम छूम,
छा ना ना ना,
छूम छूम छा ना ना ना,
क्रांध क्रांध क्रांध धा,
धा धा धा,
मधूबन में राधिका नाचे रे,
मधुबन में राधिका,
नी सा रे सा,
गा रे मा गा,
पा मा धा पा,
नी धा सां नी रें सां रे सा,
नी धा पा मा पा धा नी,
सां रें सां नी धा पा मा गा,
मा धा पा गा मा रे सा,
मधुबन में राधिका नाचे रे सां सां,
सां नी धा पा मा पा धा पा गा मा रे,
मधुबन में राधिका नाचे रे,
मधुबन में राधिका,
ओदे नादिर दिरधा,
नीता धारे दीम दीम तानाना,
नादिर दिरधा नता धारे दीमदीम,
तानाना ना दिर दिर धा नी ता धा रे,
दीम दीम ता ना ना ना दिर दिर,
धा नी ता धा रे ओ दे ताना,
दिर दिर ताना,
दिर दिर दिर दिर दूम दिर,
दिर दिर धा तिरकिट तक दूम तिरकिट,
तक तिरकिट तिरकिट ता धा नी ना,
दिर दिर धा नी ता धा रे।।

मधुबन में राधिका नाचे रे,
गिरधर की मुरलिया बाजे रे,
मधुबन में राधिका नाचे रे।।

Leave a Reply