बड़ी याद किशोरी जु की आये अखियों से नीर बरसे लिरिक्स

बड़ी याद किशोरी जु की आये,
अखियों से नीर बरसे,
कोई अपना नहीं है हाये,
अखियों से नीर बरसे,
बड़ी याद किशोरी जु की आए,
अखियों से नीर बरसे।।

कोई तो किशोरी जु को,
दियो सन्देश रे,
बड़ी मजबूर बड़ी,
दूर मेरा देश रे,
मेरी उंगली पकड़ ले जाए,
अखियों से नीर बरसे,
बड़ी याद किशोरी जु की आए,
अखियों से नीर बरसे।।

लाड़ली बचा लो मोहे,
गिरने लगी हूँ,
ऐसा लगे जैसे मैं तो,
मरने लगी हूँ,
आँख फड़के ये दिल घबराए,
अखियों से नीर बरसे,
बड़ी याद किशोरी जु की आए,
अखियों से नीर बरसे।।

मुस्का के उनका वो,
मेरी ओर देखना,
लिख नहीं पाए हरिदासी,
की ये लेखना,
पीड़ विरहा की सही ना जाए,
अखियों से नीर बरसे,
बड़ी याद किशोरी जु की आए,
अखियों से नीर बरसे।।

बड़ी याद किशोरी जु की आये,
अखियों से नीर बरसे,
कोई अपना नहीं है हाये,
अखियों से नीर बरसे,
बड़ी याद किशोरी जु की आए,
अखियों से नीर बरसे।।

Leave a Reply