Skip to content

बाबा छमछम बाजे घूघरा रामदेवजी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स

  • by
0 1330

बाबा छमछम बाजे घूघरा,
ए रुणझुण बाजे घूघरा,
घोड़े रा बाजे पोड जी,
लीले री असवारी आवे,
बाबा री असवारी आवे,
आवे रामा पीरजी।।

अर्ज करू रे अजमाल रा,
बाबा अर्ज करू रे अजमाल रा ,
संता करी रे पुकार जी,
सादा करी रे पुकार जी,
राम सरोवर आप रो जी,
राम सरोवर आप रो जी,
अलख घणो उपकार जी।।

लिलो घोड़ो नवलखो,
बाबा लिलो घोड़ो नवलखो ,
मोतिया जड़ी रे लगाम जी,
जीन पर चड़िया बाबा रामदेवजी,
हलहल ऊबो भान जी।।

पिछम धरा रे मार्गा,
बाबा पिछम धरा रे मार्गा ,
एक अलबेलों असवार जी,
लिलो हिसे धरती धूजै,
लिलो हिसे धरती धूजै,
असुर गया सब भाग जी।।

आवे दुरा देशा रा यात्री,
आवे दुरा देशा रा यात्री ,
थारो मेलो भरावे भर पुर जी,
दुखिया ने सुखिया करो रामा,
दुखिया ने सुखिया करो रामा,
मेटो तन रा पाप जी।।

बाबा हरजी भाटी री वीनती,
बाबा हरजी भाटी री वीनती ,
थी मारा मायन बाप जी,
आयो थारे देवरेजी,
आयो थारे देवरेजी,
धर दो शीर पर हाथ जी।।

बाबा छमछम बाजे घूघरा,
ए रुणझुण बाजे घूघरा,
घोड़े रा बाजे पोड जी,
लीले री असवारी आवे,
बाबा री असवारी आवे,
आवे रामा पीरजी।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.