Skip to content

बाँके बिहारी की बाँसुरी बाँकी श्री रविंद्र जैन भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2050

बाँके बिहारी की बाँसुरी बाँकी,
पे सुदो करेजा में घाव करे री,
मोहन तान ते होए लगाव तो,
औरन ते अलगाव करे री,
गैर गली घर घाट पे घेरे,
गैर गली घर घाट पे घेरे,
कहाँ लगी कोउ बचाउ करे री,
जादू पड़ी रस भीनी छड़ी मन,
पे तत्काल प्रभाव करे री,
जादू पड़ी रस भीनी छड़ी मन,
पे तत्काल प्रभाव करे री।।

मोहन नाम सो मोह न जानत,
दासी बनायीं के देत उदासी,
छोड़ चली धन धाम सखी सब,
बाबुल मैया की पाली पनासी,
एक दिना की जो होए तो झेले,
एक दिना की जो होए तो झेले,
सतावत बांसुरी बारह मासी,
सोने की होती तो का गति होती,
भई गल फांसी जे बाँस की बांसी।।

कानन कानन बाजी रही अरु,
कानन कानन देत सुनाई,
कान ना मानत पीर ना जानत,
का करे कान करे अब माई,
हरि अधरमृत पान करे,
हरि अधरमृत पान करे,
अभिमान करे देखो बांस की जाइ,
प्राण सबे के धरे अधरान,
हरी जब ते अधरान धराई।।

चोर भयो नवनीत के ले अरु,
प्रीत के ले बदनाम भयो री,
राधिका रानी के दूधिया रंग ते,
रंग मिलायो तो श्याम भयो री,
काम कलानिधि कृष्ण की कांति के,
काम कलानिधि कृष्ण की कांति के,
कारन काम अकाम भयो री,
प्रथमाकर बनवारी को ले,
रजखण्ड सखी ब्रजधाम भयो री।।

बाँके बिहारी की बाँसुरी बाँकी,
पे सुदो करेजा में घाव करे री,
मोहन तान ते होए लगाव तो,
औरन ते अलगाव करे री।।

  1. मैं मांगता तुमसे मेरे बाबा भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. अरज सुनो मेरे साँवरिया भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. हर ग्यारस की ग्यारस तुमसे मुलाकात हो जाए भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. कीर्तन में धूम मचा जइयो मेरे श्याम धणी साँवरिया कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. काली काली अल्को के हम है दीवाने भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. दर्शन करने आए दर्शन करके जाएंगे भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. मेरे सपनों में आते है खाटू के बाबा श्याम भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. जबसे मैं श्याम आपकी चौखट पे आ रहा हूँ भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.