प्रभु राम का बनके दीवाना छमाछम नाचे वीर हनुमाना लिरिक्स

भजन प्रभु राम का बनके दीवाना छमाछम नाचे वीर हनुमाना लिरिक्स
Singer – Ritesh Manocha
तर्ज – जट यमला पगला।

प्रभु राम का बनके दीवाना,
छमाछम नाचे वीर हनुमाना,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है।।

राम के सिवा नहीं सूझे,
कोई दूजा नाम,
राम जी की धुन में,
रहता है ये आठों याम,
चुटकी बजाए,
खड़ताल बजाता है,
मुख से ये राम हरे,
राम गुण गाता है,
जग से ये होके बेगाना,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है।।

हाथ में सोटा लाल लंगोटा,
पहना है,
सिंदूरी तन वाले तेरा क्या,
कहना है,
राम सिया राम नाम,
ओढ़ के चुनरिया,
नाच रहा मस्ती में,
अवध नगरीया,
भूल गया बाला शर्माना,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है।।

राम चरण की धूलि,
माथे लगाई है,
मन में छवि श्री राम,
सिया की बसाई है,
राम जी के सेवक है,
बजरंग प्यारे जो,
अपना समय,
राम सेवा में गुजारे वो,
‘कुंदन’ करे ना बहाना,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है।।

प्रभु राम का बनके दीवाना,
छमाछम नाचे वीर हनुमाना,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है,
के राम सियाराम जपता है,
मस्त मगन रहता है।।

Leave a Reply