Skip to content

पार्वती के तुम हो लाला राजस्थानी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स

  • by
fb-site

पार्वती के तुम हो लाला,
में जप्ता हुँ तेरी माला।।

श्लोक – पारवती के लाल कोमल कर,
मोदक वसे तो मंगल रूप विसार,
सरस्वती शिमरू शारदा,
धरु गुणपत को ध्यान,
घट का ताला खोल दो,
मैं हूँ मुर्ख अंजान।

पार्वती के तुम हो लाला,
में जप्ता हुँ तेरी माला,
खोल मेरे हिर्दय का ताला,
ग्यान बतावा आयके,
मेरा गुण से पेट भरो रे,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुख सम्पत दीजो आयके,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुंडाला मेहर करो रे।।

मात गवरजा सियासती को,
में शिमरू कैलाश पति को,
बलवंता हनुमान जती को,
लायो सजीवन जायके,
रघुवर काज हरो रे,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुख सम्पत दीजो आयके,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुंडाला मेहर करो रे।।

रिद्धि शिद्धि सेज सकल घनकारा,
अड़सठ तीर्थ गंगा नित धारा,
पुष्कर तीर्थ राज से प्यारा,
नया डूबे मजधार में,
सतगुरु जी पार करो रे,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुख सम्पत दीजो आयके,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुंडाला मेहर करो रे।।

मात पिता गुरुदेव पिसाई,
जन्म दियो जन ग्यान बताये,
‘धनसुख’ लाल शरण तेरी आये,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुख सम्पत दीजो आयके,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुंडाला मेहर करो रे।।

पार्वती के तुम हो लाला,
में जप्ता हुँ तेरी माला,
खोल मेरे हिर्दय का ताला,
ग्यान बतावा आयके,
मेरा गुण से पेट भरो रे,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुख सम्पत दीजो आयके,
गणनायक विघ्नं हरो रे,
सुंडाला मेहर करो रे।।

  1. आओ गवरी रा गणराज विनायक दूंद दुन्दाला राजस्थानी भजन लिरिक्स
  2. भव से तिरा दे बिगडी हुई बात बनादे राजस्थानी भजन लिरिक्स
  3. ठुमक ठुमक कर घोड़ो आवे रामदेवजी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  4. जम्भेश्वर म्हारी अरजी सुनो भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  5. मति कर मन अन्न धन रो गुमान चेतावनी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  6. बाबाजी थारी धुन घणी मीठी लागे भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  7. रट स्वास स्वास में राम भजन करले रे पंछी राजस्थानी भजन लिरिक्स
  8. दुखियारा दुखड़ा मेटे बाबो नीले रो असवार राजस्थानी भजन लिरिक्स
  9. काली काली बादली में इंदर बरसे रामदेव जी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  10. शनिचर तपधारी शनिदेव महिमा भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  11. भुलो मति रे भाईडा भुलो मति माता पिता का अहसान राजस्थानी भजन लिरिक्स
  12. ओ लीलण म्हारी जइजे जइजे गढ़ खरनाले शहर राजस्थानी भजन लिरिक्स
  13. राजा दसरथ के महलो में जन्म लियो श्री राम जी राजस्थानी भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.