Skip to content

पहला नाम तुम्हारा शिमरू रिद्धि शिद्धि दे दो गुणकारी

  • by
0 1275

पहला नाम तुम्हारा शिमरू,
रिद्धि शिद्धि दे दो गुणकारी,
भक्तो के काज भोप में दलिया,
पहलाद उबरियो क्षीण माई,
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

जद अजमलजी होत्ता वोजिया,
तब रे मालिक थारो भजन कियो ।
करणी रे काज गोविन्द घरे आया,
आवे रणुजे अवतार लीयो ।।
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

राजा हरिचन्द्र रानी तारादे,
सतधारी जुगडा माये,
सत रे काज काशी में बिकिया,
भरियो घर घर में पानी,
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

बालियोड़ो आम्ब दियो दुर्योधन,
घर वावो पांडवा ताई,
पंडवेतो प्रीत राम से राखी,
आंबो उगायो पल माय,
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

पांचे पांडव ने सती द्रोपदी,
सतवंती माँ कुंताजी,
सत रे काज हिमालय गलिया,
देह गाली पहाड़ा माय,
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

कुण है लोभी कुण है लालसी,
कुण कुड़ियों जरनी माय,
मन है लोभी मन है लालसी,
मन कुड़ियों जरनी माय,
बगसोजी अर्ज करे धनियानी,
हरी रो भजन कर ले भाई,
ऐडा ऐडा वचन संभालो म्हारा दाता,
हरदम वातो ही थारी ,
शाम्भलोनी अर्ज भजो भव तारण,
एक बात मालिक मारी रे।।

  1. श्री आशापुराजी जोगणिया नाम धरायो जोगणिया माता प्रकट कथा
  2. कळप मत काछब कुड़ी ए राम की बाता रूडी ए राजस्थानी भजन लिरिक्स
  3. मत ना जावो छोड़ मोहन याद घणैरी आवसी राजस्थानी भजन लिरिक्स
  4. आदअन्त करूं थांकी सिवरणा मारा खोलो गिगन घर ताला
  5. सुण सुण तेजा म्हारा देवर तू मत ना दिखावे तेवर
  6. आज आनंद भयो मेरी नगरी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  7. आज आनंद भयो मेरी नगरी भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  8. सुण म्हारी लाडली ऐ कर बाई जांबेजी ने याद राजस्थानी भजन लिरिक्स
  9. म्हारो बाबो म्हाने मायड़ बाबुल के जईया पाले सा भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  10. तेरे जैसो रे साँवरा कोई नहीं कोई नहीं भजन राजस्थानी भजन लिरिक्स
  11. मोरूडा सिरे मंदिर गढ मीठो मीठो बोल्यो रे भजन

Leave a Reply

Your email address will not be published.