दे दो अपनी नौकरी मैया जी इक बार भजन लिरिक्स

दे दो अपनी नौकरी,
मैया जी इक बार,
बस इतनी तनखा देना,
मेरा सुखी रहे परिवार,
दे दो अपनी नोकरी,
मैया जी इक बार।।

तेरे काबिल नही है मैया,
फिर भी काम चला लेना,
जैसे भी है हम तेरे है,
गुण अवगुण बिसरा देना,
गर तेरी किरपा होगी,
मेरा सुधरेगा संसार,
दे दो अपनी नोकरी,
मैया जी इक बार।।

तुम तो जग जननी हो माँ,
मेरी क्या औकात है,
तेरी सेवा मिल जाए तो,
यह किस्मत की बात है,
मानूंगा तेरा कहना,
मैं करता हूँ इकरार,
दे दो अपनी नोकरी,
मैया जी इक बार।।

थोड़ी सी माया देकर के,
हमको ना बहलाओ जी,
आज खड़ा हूँ सामने तेरे,
कोई हुकुम सुनाओ जी,
‘रोमी’ की इस अर्जी पे,
अब मत करना इंकार,
दे दो अपनी नोकरी,
मैया जी इक बार।।

दे दो अपनी नौकरी,
मैया जी इक बार,
बस इतनी तनखा देना,
मेरा सुखी रहे परिवार,
दे दो अपनी नोकरी,
मैया जी इक बार।।

स्वर – राजू मेहरा जी।
दुर्गा माँ भजन दे दो अपनी नौकरी मैया जी इक बार भजन लिरिक्स
दे दो अपनी नौकरी मैया जी इक बार भजन लिरिक्स
तर्ज – देना हो तो दीजिये।

This Post Has One Comment

Leave a Reply