Skip to content

दिल पे ज़ख्म Dil Pe Zakhm Lyrics In Hindi– Jubin Nautiyal

0 335

collection of Punjabi songs lyrics.

Dil Pe Zakhm Song Lyrics Description From Album- Jubin Nautiyal

Lyrics Title: Dil Pe Zakhm
Singers: Jubin Nautiyal
Lyrics: Manoj Muntashir
Music: Rochak Kohli
Music Company: T-series.

दिल पे ज़ख्म Dil Pe Zakhm Song Lyrics In Hindi:

हस्ता हुआ ये चेहरा
बस नज़र का धोखा है
तुमको क्या खबर कैसे
इन आंसुओ को रोका है

हो तुमको क्या खबर कितना
मैं रात से डरता हूँ
सौ दर्द जाग उठते है
जब जमाना सोता है

हो तुमपे उँगलियाँ ना उठे
इस लिए गम उठाते है

दिल पे ज़ख्म खाते है
दिल पे ज़ख्म खाते है
और मुस्कुराते है
दिल पे ज़ख्म खाते है
और मुस्कुराते है

क्या बताये सीने में
किस कदर दरारे है
हम वो है जो शीशों
को टूटना सिखाते है
दिल पे ज़ख्म खाते है

लोग हमसे कहते है
लाल क्यूँ है ये आंखे
कुछ नशा किया है या
रात सोये थे कुछ कम

लोग हमसे कहते है
लाल क्यूँ है ये आंखे
कुछ नशा किया है या
रात सोये थे कुछ कम

क्या बताये लोगो को
कौन है जो समझेगा
रात रोने का दिल था
फिर भी रो ना पाए हम

दस्तके नहीं देते
हम कभी तेरे दर ते
तेरी गलियों से हम
यूँही लौट आते है
दिल पे ज़ख्म खाते है

कुछ समझ ना आये
कुछ समझ ना आये
हम चैन कैसे पाये
बारिशें जो साथ में गुज़री
भूल कैसे जाए

कैसे छोड़ दे आंखे
तुझको याद करना
तू जिये तेरी खातिर
अब है कबूल मरना

तेरे खत जला ना सके
इस लिए दिल जलाते है

दिल पे ज़ख्म खाते है
और मुस्कुराते है
हम वो है जो शीशों
को टूटना सिखाते है

दिल पे ज़ख्म खाते है
और मुस्कुराते है
दिल पे ज़ख्म खाते है

Other Song Lyrics

Official Music Video of Dil Pe Zakhm:

1 thought on “दिल पे ज़ख्म Dil Pe Zakhm Lyrics In Hindi– Jubin Nautiyal”

  1. Pingback: हर दिल जो प्यार करेगा Har Dil Jo Pyar Karega Title Track Lyrics In Hindi– Har Dil Jo Pyar Karega - Fb-site.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.