तुम ना सुनोगी तो कौन सुनेगा माता भजन लिरिक्स

दुर्गा माँ भजन तुम ना सुनोगी तो कौन सुनेगा माता भजन लिरिक्स
गायक – विशाल जोशी।
तर्ज – और इस दिल में।

तुम ना सुनोगी तो कौन सुनेगा,

साथी हमारा कौन बनेगा,
तुम ना सुनोगी तो कौन सुनेगा,
आज मेरी फरियाद तू सुन ले,
तेरे सिवा माँ कौन है मेरा,
साथ ही हमारा कौन बनेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

सुना है हमने सभी से,
खिवैया एक ही है,
घूम ली सारी दुनिया,
ये मैया एक ही है,
अबकी पार लगाओ नैय्या,
मानूंगा एहसान,
मानूंगा एहसान,
हमको किनारा कैसे मिलेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

वो तेरे भक्त होंगे,
जिन्हें तुमने है तारा,
बता ऐ कटरा वाली,
कौन सा तीर मारा,
भक्त तुम्हारी भक्ति करते,
लेते रहते नाम,
लेते रहते नाम,
उनका काम तो करना पड़ेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

आ गया दर पर तेरे,
सुनवाई हो जाए,
जिंदगी से दुखों की,
विदाई हो जाए,
एक नजर कृपा की डालो,
मानूंगा एहसान,
मानूंगा एहसान,
संकट हमारा कैसे कटेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

है पानी सर के ऊपर,
मुसीबत अड़ गई है,
हे मैया आज तुम्हारी,
जरूरत पड़ गई है,
अपने हाथ से हाथ पकड़ ले,
मानूंगा एहसान,
मानूंगा एहसान,
साथ हमारे कौन चलेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

साथी हमारा कौन बनेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा,
आज मेरी फरियाद तू सुन ले,
तेरे सिवा माँ कौन है मेरा,
साथ ही हमारा कौन बनेगा,
तुम ना सुनोगे तो कौन सुनेगा।।

Leave a Reply