Skip to content

ताकते रहते तुझको सांझ सवेरे भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2191

ताकते रहते तुझको सांझ सवेरे
नेनौ मे हाय नेनौ मे,
नेनौ मे बसिया जैसे नैन ये तेरे,
नेनौ मे बसिया जैसे नैन ये तेरे,
तेरे मस्त मस्त दो नैन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
तेरे मस्त मस्त दो नैन।।

कीर्तन की रात है,
सजा दरबार हैं,
ज्योत जलें तेरी जोत जले,
दिवाना पन मेरा,
तुझसे ही जाने क्यू,
बढता जाये बाबा,
बढता ही जाये,
होश हवास मेरे खोने लगे है,
श्याम के दिवाने हम तो,
होने लगे हैं,
तेरे मस्त मस्त दो नैन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
तेरे मस्त मस्त दो नैन।।

जोत से शुरू हुई,
चोखट पे खत्म हो,
दुनिया मेरी बाबा,
दनिया मेरी,
जो बात दिल मे थी,
भक्तो ने बोल दी,
भक्ति करू बाबा,
भक्ति तेरी,
तुझको को ही याद करके,
आहे भरू मैं,
खाटू मे आके तेरा,
दर्शन करू मैं,
तेरे मस्त मस्त दो नैन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
तेरे मस्त मस्त दो नैन।।

लखदातार हैं,
लीले पे सवार है,
खाटू मे बाबा तेरा,
सच्चा दरबार हैं,
मझदार मे मेरी,
डुबे हैं नैया,
पार लगा बाबा,
पार लगा,
श्याम मण्डल तेरा,
गुणगान गाये,
गाके भजन ये,
तुझको सुनाये,
कान्हा भी बाबा,
तेरे चरणो मे आये,
तेरे मस्त मस्त दो नैन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
तेरे मस्त मस्त दो नैन।।

ताकते रहते तुझको सांझ सवेरे
नेनौ मे हाय नेनौ मे,
नेनौ मे बसिया जैसे नैन ये तेरे,
नेनौ मे बसिया जैसे नैन ये तेरे,
तेरे मस्त मस्त दो नैन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
मेरे दिल का ले गये चेन,
तेरे मस्त मस्त दो नैन।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.