Skip to content

जो मेरी लाज की लाज रखता सदा भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2297

जो मेरी लाज की लाज रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
जो मेरी लाज की लाज रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

श्याम जब से मिले,
दिन बदलने लगे,
रोते लब भी मेरे,
अब तो हंसने लगे,
खुशनुमा हो गई,
जिन्दगी ये मेरी,
अश्क खुशियों के भी,
अब टपकने लगे,
जो मेरी बात की,
बात रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

गर्व है अब मुझे,
अपने इस यार पे,
है भरोसा मुझे,
अपने दिलदार पे,
मेरे इस प्यार का,
जो भी अंजाम हो,
मैने छोड़ा है सब,
श्याम सरकार पे,
जो मेरे ख्वाब सब,
पुरे करता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

मैं दीवानी तेरी,
नाम तेरा जपूँ,
तेरी चोखट से बाबा,
कभी ना हटू,
तेरे चरणों की सेवा,
है जब से मिली,
मेरे अंधियारे जीवन में,
कलिया खिली,
जो मेरे मान का,
मान रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

प्यार से डाट से,
श्याम समझाता है,
मेरी मंजिल मुझे,
श्याम बतलाता है,
रोकता है मुझे,
हर बुरे कर्म से,
मेरे खातिर,
ज़माने से लड़ जाता,
रोहित जिसका करे,
शुक्रिया अब सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

जो मेरी लाज की लाज रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
जो मेरी लाज की लाज रखता सदा,
मीत वो मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे,
सांवरा मिल गया है मुझे।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.