जय अम्बे जगदम्बे माँ तेरे दम से है दुनिया भजन लिरिक्स

जय अम्बे जगदम्बे माँ,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ,
जय अम्बे जगदम्बे मां,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ।।

द्रष्टि दया की जिसपे डाले,
तू उसका उद्धार करे,
जग कल्याणी भव सागर से,
सबका बेड़ा पार करे,
खाली झोली भरने वाली,
किसको दे दे कब कितना,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ,
जय अम्बे जगदम्बे मां,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ।।

अँधेरे में बनके उजाला,
भटके जनो को राह दिखाए,
मैया कर संतों की रक्षा,
शैतानों को आज मिटा,
जालिम को ऐसी सजा दे,
रह न जाये कोई निशां,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ,
जय अम्बे जगदम्बे मां,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ।।

हे महारानी देवी भवानी,
ज्योति जलाने आया हूँ,
ज्योत वाली माता काली,
तुझको मनाने आया हूँ,
हे मेहर वैष्णव दुर्गा चंडी,
बस तेरे गुण गाऊँगा,
बरस बरस मैं इन चरणों पे,
श्रद्धा फूल चढ़ाऊंगा,
हे रुक जाएगा दर पे तेरे,
गर तूफ़ान भी आएगा,
मेरे सर पे हाथ है तेरा,
मुझको कौन मिटाएगा।।

जय अम्बे जगदम्बे माँ,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ,
जय अम्बे जगदम्बे मां,
तेरे दम से है दुनिया,
तेरी महिमा कोई ना जाने,
तुझसे कौन बचा है यहाँ।।

प्रेषक – आशुतोष।
7869697758
दुर्गा माँ भजन जय अम्बे जगदम्बे माँ तेरे दम से है दुनिया भजन लिरिक्स
जय अम्बे जगदम्बे माँ तेरे दम से है दुनिया भजन लिरिक्स

Leave a Reply