Skip to content

जब से निहारा श्याम तुम्हे पलकों ने झपकना छोड़ दिया

  • by
0 1830

जब से निहारा श्याम तुम्हे,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया,
जबसे बसाया दिल में तुम्हे,
इस दिल ने तड़पना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया।।

मैं तेरी तलाश में सांवरिया,
हर दर दर पे मैं भटका हूँ,
जग से हारा दुःख का मारा,
मैं आज भवर में अटका हूँ,
तेरा दामन जबसे थाम लिया,
दुनिया में भटकना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया।।

ना जाने कहाँ तू खोया था,
जो आज मुझे तू आके मिला,
तेरी रहमत से मालिक,
मेरी बगिया का फूल खिला,
युग युग से तरसते नैनो से,
अश्को ने बरसाना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया।।

तू हि नैया तू ही माझी,
तू साहिल तू ही किनारा है,
दीपू के मन का मीत तू ही,
ये तन मन तुझपे वारा है,
कैसा ये जादू तूने किया,
इस दिल ने तरसना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया।।

जब से निहारा श्याम तुम्हे,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया,
जबसे बसाया दिल में तुम्हे,
इस दिल ने तड़पना छोड़ दिया,
पलकों ने झपकना छोड़ दिया।।

  1. साँवरिया ओ साँवरिया भा गई तेरी सुरतिया भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. बाबा ऐसी कृपा हो मेरा जीवन सफल हो भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. बाबा मैं हारा हूँ सांवरिया मुझे जीत दिला दे कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. साथी सबके श्याम है यहाँ करते सबके काम है यहाँ कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. हम भूल गए रे कई बार मगर कभी श्याम नहीं भूले कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. हमारे घर श्याम आए है हिंदी भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. मेरी बांके बिहारी जू से प्रीत ये दुनिया जान गई भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.