Skip to content

जब मिलने को दिल चाहे तू ऐसी युक्ति बनाये भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2477

जब मिलने को दिल चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये
एहसान तेरा सांवरिया
मुझे हर ग्यारस पे बुलाये
जब मिलने को दील चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये।।

जब हो मेरा व्याकुल मन
और उठने लगे इक तड़पन
तुझसे अरदास लगाऊं
हल हो जाए हर उलझन
हर राह पे बनके साथी
मेरा हर पल साथ निभाए
एहसान तेरा सांवरिया
मुझे हर ग्यारस पे बुलाये
जब मिलने को दील चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये।।

मुश्किल से गुजरे ये दिन
और रातें तारों को गिन
ये तू जाने या दिल ये
कैसा है अपना बंधन
क्या प्रीत है तुझसे दिल की
तेरी और खिंचा ही आये
एहसान तेरा सांवरिया
मुझे हर ग्यारस पे बुलाये
जब मिलने को दील चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये।।

कहाँ किस्मत में लिखा है
सबको मिलना तेरा द्वारा
धामी का भाग्य प्रबल है
जो तूने दिया सहारा
कैसे खाटू के दातारी
सतविंदर क़र्ज़ चुकाए
एहसान तेरा सांवरिया
मुझे हर ग्यारस पे बुलाये
जब मिलने को दील चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये।।

जब मिलने को दिल चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये
एहसान तेरा सांवरिया
मुझे हर ग्यारस पे बुलाये
जब मिलने को दील चाहे
तू ऐसी युक्ति बनाये।।

  1. कान्हा तेरे चरणों में कर के प्रणाम भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. रंग बरसे नाचे कृष्ण मुरारी रंग बरसे भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. कभी आया साथी बनकर भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. ओ कान्हा रे आजा रे कृष्ण भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. कैया रिझे श्याम रिझाणों कोणी जानू मैं भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. कैया रिझे श्याम रिझाणों कोणी जानू मैं भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. सांवरे तुमको पाना बता क्या करे भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. इतनी विनती है तुमसे कन्हैया भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.