Skip to content

जब दिल तेरा घबराए खाटु में चले आना भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2012

जब दिल तेरा घबराए,
खाटु में चले आना,
जब वक्त सितम ढाए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराए,
खाटु में चले आना।।

इक हो या हजारो हो,
दुःख यहाँ पे टलते है,
अरमा सारे दिल के,
इक पल में निकलते है,
ठोकर जिसने खाई,
वो यहाँ सम्भलते है,
जब कुछ ना समझ आए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराये,
खाटु में चले आना।।

भव-सागर से निकलो,
कश्ती का किनारा है,
अनुभव जो किया मैंने,
ये उसका इशारा है,
ये देगा साथ तेरा,
हारे का सहारा है,
जब काम न कोई आए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराये,
खाटु में चले आना।।

मैं करता प्रतीक्षा हूँ,
मानो या ना मानो,
मैं जान गया सबकुछ,
तुम जानो या ना जानो,
मैं क्या हूँ मुझको तुम,
आकर यहाँ पहचानो,
जब पास न कोई आए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराये,
खाटु में चले आना।।

गफलत में जो खोए है,
वही आहे भरते है,
खाटु आकर मुझसे,
मुलाकात जो करते है,
दीवाने मेरे जग में,
नहीं किसी से डरते है,
बेधड़क यही गाए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराये,
खाटु में चले आना।।

जब दिल तेरा घबराए,
खाटु में चले आना,
जब वक्त सितम ढाए,
खाटु में चले आना,
जब दिल तेरा घबराए,
खाटु में चले आना।।

  1. यहाँ किस को कहे अपना सभी कहने को अपने है कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. हमने ब्रज के ग्वाले से अपना दिल लगाया है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. हे शीश के दानी श्याम प्रभु तेरे दर की महिमा भारी है कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. सांवरे तुमको आना पड़ेगा भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. थे ही तो म्हारा मायड़ बाप भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. है सबसे शोभा न्यारी रमण बिहारी की भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. तेरे दर की भीख से है मेरा आज तक गुज़ारा कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. हारे का सहारा बन जाओ श्याम के प्यारे बन जाओ कृष्ण भजन लिरिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.