Skip to content

चौखट पर बैठ के बाबा अर्जी लगावा जी भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2560

चौखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी
तो अर्जी में आँसुडा री
भेंट चढ़ावा जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

अर्जी में बाबा मैं तो
कुटिया ही माँगी जी
तो कुटिया ने महल
बणायो बाबा श्याम जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

अर्जी में बाबा में तो
झोली फैलाई जी
तो आँगन में लाल ने
ख़िलायो बाबा श्याम जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

अर्जी में थासु रोटी
घरका की मागी जी
तो चाकर ने सेठ
बनायो बाबा श्याम जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

अर्जी में बाबा सारो
दुखड़ो सुनावा जी
तो दुखड़ो मिटाकर
सारो सुख बरसाओ जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

अर्जी में अमित बाबा
अब थासु मांगे जी
मांगे जन्मा जन्मा को रिश्तों
थासू आज जी

अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

चौखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी
तो अर्जी में आँसुडा री
भेंट चढ़ावा जी
अर्जी लगावा जी
चोखट पर बैठ के बाबा
अर्जी लगावा जी।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.