Skip to content

गर श्याम से मिलना है एक बात समझ लेना भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 1521

गर श्याम से मिलना है,
एक बात समझ लेना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

मीरा भी हारी थी,
गिरधर को पायी थी,
विष अमृत कर पाया,
मोहन को रिझाई थी,
नैनो में श्याम बसा,
विष पान किया करना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

नरसिहं जब हारा था,
सांवरिया आया था,
धर भेष सेठिये का,
क्या माल लुटाया था,
तारों से तार मिला,
मन पीड़ा सुना देना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

एक मित्र सुदामा था,
सर्वस्व अपना हारा,
इस मुरली मनोहर ने,
अपना सबकुछ वारा,
तू दिन हिन बनकर,
चरणों में रहा करना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

घनश्याम से प्रीत लगा,
देखो भक्त वत्सल हारे,
हारी हुई बाजी को,
श्री श्याम जीता डाले,
कहे श्याम बहादुर तू,
दर पे दे दे धरना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

गर श्याम से मिलना है,
एक बात समझ लेना,
हारे का साथी है,
सदा हार के तू रहना।।

  1. बनवारी रे जीने का सहारा तेरा नाम रे भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. खुजनेर बैठा खाटू वाला मैं तो जाऊंगी भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. तेरी बंसी वे कान्हा कमाल कर गई भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  4. मेरो कान्हा गुलाब को फूल किशोरी मेरी कुसुम कली कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. झलक बांके बिहारी की मेरे इस मन में भायी है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. मैं ढूंढ चूका जग सारा पता ना कहीं तेरा मिला चित्र विचित्र भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  7. तेरा दर्श पाने को जी चाहता है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. सखी री बाँके बिहारी से हमारी लड़ गयी अंखियाँ भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  9. झाड़ो मोरछड़ी को लगवाले हो जासी कल्याण कृष्ण भजन लिरिक्स
  10. दरबार श्याम तेरा देख मैं तो तेरी हो गई कृष्ण भजन लिरिक्स
  11. संकट हरलो बांह में भरलो आओ दीनानाथ बता क्या देरी है

Leave a Reply

Your email address will not be published.