कुछ ना कहो Kuch Na Kaho Lyrics In Hindi– 1942: Love Story

Kuch Na Kaho Song Lyrics Description From Movies- 1942: Love Story

Lyrics Title: Kuch Na Kaho
Movies: 1942: Love Story
Singers: Kumar Sanu
Lyrics: Javed Akhtar
Music: R.D. Burman
Music Company: Saregama.

कुछ ना कहो Kuch Na Kaho Song Lyrics In Hindi:

कुछ ना कहो कुछ भी ना कहो
कुछ ना कहो कुछ भी ना कहो
क्या कहना है क्या सुनना है
मुझको पता है तुमको पता है
समय का ये पल थमसा गया है
और इस पल में कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो
कुछ ना कहो कुछ भी ना कहो

कितने गहरे हलके शाम के रंग है छलके
परबत से यूं उतरे बादल जैसे आँचल ढलके
कितने गहरे हलके शाम के रंग है छलके
परबत से यूं उतरे बादल जैसे आँचल ढलके
और इस पल में कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो
कुछ ना कहो कुछ भी ना कहो

सुलगी सुलगी सांसें बहकी बहकी धड़कन
मेहके मेहके शाम के साए पिघले पिघले तनमन
सुलगी सुलगी सांसें बहकी बहकी धड़कन
मेहके मेहके शाम के साए पिघले पिघले तनमन
और इस पल में कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो
कुछ ना कहो कुछ भी ना कहो
क्या कहना है क्या सुनना है
मुझको पता है तुमको पता है
समय का ये पल थमसा गया है
और इस पल में कोई नहीं है
बस एक मैं हूँ, बस एक तुम हो

1942: Love Story Movie Other Song Lyrics :

Official Music Video of Kuch Na Kaho:

http://www.youtube.com/watch?v=X6PS4DeqVic

Leave a Reply