कबसे खड़े है झोली पसार भजन श्याम बाबा भजन लिरिक्स

कबसे खड़े है झोली पसार
क्यूँ ना सुने तू मेरी पुकार
जग रखवाला है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

फिल्मी तर्ज भजन : आने से उसके आए बहार।

देख लो लगी हैं
आज मंदिर मैं ये भीड़ भारी
दर्शनों की खातिर
आए हैं लाखों नर और नारी
आजा हे मुरारी अब
दीनों ने पुकारा है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

जिंदगी से हारे
गम ज़माने का हम लेके आए
तू बता जहां में
लोग अपने हुए क्यों पराए
तेरे सिवा दुनिया में
कोई ना हमारा है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

रास्ता ना सूझे
कहां जाए मुसीबत के मारे
आसरा है तेरा
दूर कर दो ये संकट हमारे
सुनते हैं तूने ही
लाखों को उबारा है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

आ गए शरण में
बोझ पापों का सर पर उठाए
कर नजर दया की
तेरा भगत तुझे है बुलाए
सेवा में हमने तेरे
जीवन गुजारा है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

कबसे खड़े है झोली पसार
क्यूँ ना सुने तू मेरी पुकार
जग रखवाला है मेरे साँवरिया
तेरा ही सहारा है मेरे साँवरिया।।

  1. एक बार तो कन्हैया हम जैसो से मिलो भजन श्याम बाबा भजन लिरिक्स
  2. छोटे से मंदिर में बाबा करता बड़ा कमाल है श्याम बाबा भजन लिरिक्स
  3. जन्मदिन श्याम का आया भजन श्याम बाबा भजन लिरिक्स
  4. श्याम तुम्हारे दर्शन को नैना कबसे तरस रहे भजन श्याम बाबा भजन लिरिक्स
  5. ऐ श्याम तुझे मैं खत लिखता पर पता मुझे मालूम नहीं श्याम बाबा भजन लिरिक्स
  6. श्याम जी भजन लिरिक्स वृंदावन का कृष्ण कन्हैया भजन लिरिक्स | vrindavan ka krishna bhajan sangrah lyrics

Leave a Reply