Skip to content

आता रहता हूँ मैं दर तुम्हारे मगर भजन कृष्ण भजन लिरिक्स

  • by
0 2200

आता रहता हूँ मैं दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो,
सुनते हो सांरे सबके दिल की सदा,
कभी अपने भी दिल की सुनाया करो,
आता रहता हूँ मै दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो।।

सबपे करते हो तुम मेहरबानियां,
ग़म के मारों की सुनकर कहानियां,
देते हो इस कदर प्यार सबको मगर,
क्या ये कहता नहीं दिल तुम्हारा कभी,
कभी मेरी भी सुनने को आया करो,
आता रहता हूँ मै दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो।।

हर एक डूबे को पल में उबारते,
सबका सोया मुकद्दर संवारते,
डाल कर तुम नज़र करते ऐसा असर,
हो मिटाते सदा सबके दुःख दर्द तुम,
पर ना यूँ दर्द अपना छुपाया करो,
आता रहता हूँ मै दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो।।

है ये विनती मेरी तुमसे सांवरे,
रखना सर पे सदा अपनी छाँव रे,
है दीवाना मेरा दिल तेरा सांवरे,
तुम हो मेरे अगर है कसम ये तुम्हे,
राज़ हमको भी अपना सुनाया करो,
आता रहता हूँ मै दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो।।

आता रहता हूँ मैं दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो,
सुनते हो सांरे सबके दिल की सदा,
कभी अपने भी दिल की सुनाया करो,
आता रहता हूँ मै दर तुम्हारे मगर,
कभी तुम भी मेरे घर आया करो।।

More bhajans Songs Lyrics IN HINDI

  1. आता रहता हूँ मैं दर तुम्हारे मगर भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  2. हे श्याम मुरली वाले मुझको गले लगा ले भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  3. श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भजन Krishna Bhajan Lyrics. भक्ति गीत
  4. केवल शीश है खाटू में है ये झूठी बात भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  5. किरपा से तेरी सांवरे मेरे बन जाते काम है भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  6. सांवरिया सुनले पुकार द्वार पे दर्दी आयौ है
  7. कह दो कारे से मुरलिया वारे से कृष्ण भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  8. यो पल पल पल पल याद तेरी तडफाती है कृष्ण भजन कृष्ण भजन लिरिक्स
  9. कृष्ण जन्माष्टमी भजन हिंदी में लिखी हुई Krishna Bhagwan

Leave a Reply

Your email address will not be published.