आऊँगा आऊँगा हे बालाजी सरकार तेरे दर आऊँगा

हरियाणवी भजन आऊँगा आऊँगा हे बालाजी सरकार तेरे दर आऊँगा
गायक – नरेन्द्र कौशिक।

आऊँगा आऊँगा हे बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा,
फिरुं दुखियारा दुखों का मारया,
सुझः ना मन्नै कोए साहरा,
बाबा करदे बेड़ा पार तेरे दर आऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हे बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

धज्जा नारियल भेंट तुम्हारी,
चोला सिंदुरी हे बलकारी,
लंगोटा घोटेदार लाल तेरा ल्याऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हें बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

मेरी बिगड़ी बात बणादे,
टुटी नईया तु पार लगादे,
खड़ी बीच मझदार पार उतर जाऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हें बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

संकट मोचन नाम तुम्हारा,
अंजनी माँ का तु राजदुलारा,
भोले शंकर का अवतार प्यार तेरा पाऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हें बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

रामकिशन मन्नै लाली सुरती,
जगदीश बसी मेरे मन में मूर्ती,
चाहे कुछ भी कहो संसार गीत तेरे गाऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हें बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

आऊँगा आऊँगा हे बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा,
फिरुं दुखियारा दुखों का मारया,
सुझः ना मन्नै कोए साहरा,
बाबा करदे बेड़ा पार तेरे दर आऊँगा,
आऊँगा आऊँगा हें बालाजी,
सरकार तेरे दर आऊँगा।।

Leave a Reply